मेडिकल स्टोर कैसे खोले – Medical Store Kaise Khole In Hindi

Medical Store Kaise Khole In Hindi सर दर्द हो ,बदन दर्द या फिर फैमली मेंबर का बुखार हो छोटी बीमारी से लेकर बड़ी बीमारी तक हम आये दिन किसी न किसी मेडिकल स्टोर पर जरूर जाते है कोई कितनी भी फाइनेंसियल प्रॉब्लम में हो दवाई खरीदने के लिए कोई किसी भी तरह का समझौता नहीं करना चाहता क्युकी ये दवाई ही है जो हमे सुरक्षित और निरोग रखने में हेल्प करती है दवाईया आवश्यक चीज़ो के गिनी जाती है और इसकी बिक्री में कोई कमी नहीं आती इसलिए ये ऐसा बिज़नेस है जो कभी बंद नहीं होगा इसलिए आज के आर्टिकल में हम आपको बताने वाले की की अगर आप खुद का मेडिकल स्टोर खोलना चाहते है तो कैसे खोल सकते है medical store kaise khole in hindi तो चलिए शुरू करते है |

मेडिकल शॉप कैसे खोले – Medical shop business ideas in hindi

भारत के डोमेस्टिक फ़र्मासिटीकल मार्केट की बात की जाये फाइनेंसियल ईयर 2021 में ये लगभग 42 बिलियन डॉलर जो 2024 तक 65 बिलियन डॉलर और 2030 तक 130 बिलियन डॉलर तक हो जाने का अनुमान है अगर आप अपना खुद का मेडिकल शॉप का बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो सबसे पहले आपको अपना बिज़नेस टाइप डिसाईड कीजिये आपके मन में अब ये सवाल आ रहा होगा की मेडिकल स्टोर में भी अलग अलग टाइप होते है क्या तो जी हां इसमें भी आपको अलग अलग टाइप देखने को मिलेंगे |

medical shop kaise khole

मेडिकल स्टोर या फार्मेसी के प्रकार – Types of Medical Stores or Pharmacy in Hindi

1 . Hospital Medical Store

इस टाइप का मेडिकल स्टोर किसी हॉस्पिटल या नर्सिंग होम में होता है जब भी आप किसी हॉस्पिटल या नर्सिंग होम में जाते है आपने ऐसे मेडिकल स्टोर जरूर देखे होंगे जो हॉस्पिटल को डॉक्टर द्वारा लिखे गए Prescription ( पर्चे ) के अनुसार दवाई देते है ऐसे मेडिकल स्टोर को हॉस्पिटल के प्रेमिसेस  में खोलने के लिए हॉस्पिटल में परमिशन लेना पड़ता है और काफी हद तक आपको हॉस्पिटल के नियम पर चलने होते है |

2 . Standalone Medical Store

ये मेडिकल स्टोर पूरी तरह से आपके कंट्रोल में होता है और आपका  individual बिज़नेस होता है इसे आप अपने घर में , मार्केट में , किसी चौक चौराहा अपने लोकल एरिया में या किसी दूसरे शहर में खोल सकते है |

3 . Township Medical Store

इस तरह के मेडिकल स्टोर अक्सर Township , Residential Apartment या Multi- Storey flats में होते है इसके अल्वा भी Government Areas , Cantonment Areas या किसी Government Colony में भी आप मेडिकल स्टोर खोल सकते है |

4 . Chain Pharmacy

इस तरह के मेडिकल स्टोर पर आपको चैन फार्मेसी के अंतर्गत एक कंपनी के प्रोडक्ट अलग अलग शहर के मेडिकल स्टोर पर मिलते है इस तरह का मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको उस कंपनी की फ्रेंचाइजी लेनी पड़ती है और उस तरह के मेडिकल स्टोर पर आप कंपनी के आधार पर ही दवाईया बेचा जाता है |

मेडिकल स्टोर का लाइसेंस कैसे बनवाये- License & Legal Formalities

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए अपने राज्य के Drugs Controller डिपार्टमेंट में एप्लीकेशन देना पड़ता है जसिके साथ आपको अपने दुकान का

  • Blueprint
  • Business Type Declaration
  • Invoice fee deposit

जिस भी नाम से आप दुकान रजिस्टर करवाना चाहते है वो नाम देना पड़ेगा ध्यान रहे की जिस नाम से आप मेडिकल स्टोर खोलना चाहते है वो नाम किसी दूसरे दुकान से मिलता जुलता न हो या आपके आस पास 10-20 km में वैसा कोई नाम और किसी मेडिकल स्टोर का न हो एप्लीकेशन के टाइम सभी गवर्नमेंट ID प्रूफ और एड्रेस प्रूफ भी देना होता है इनके अलावा भी रजिस्टर फर्मासिस्ट का एफिडेविड और अपोंटमेंट लेटर जो की आपकी शॉप पर फुल टाइम काम करेगा और जहा आप दुकान खोल रहे है और वो जगह आपकी है या किराये पर ले रहे है तो उसका ओनरशिप डॉक्युमनेट जिसके नाम पर बिज़नेस खुलने वाला है डेजिंग्नेशन और सिग्नेचर के साथ एक कवरिंग लेटर जैसी चीज़े देनी पड़ती है |

एप्लीकेशन के लिए आपको अपने पास के या District Drug Control Office या किसी मेडिकल स्टोर में अगर आपकी जान पहचान तो वह भी पूछ सकते है या फिर आप गूगल पर भी सर्च कर सकते है जहा पर आपको अपने राज्य के वेबसाइट का लिंक मिलेगा और उसे ओपन करके जहा से आप सभी इन्फ्रोमेशन , फीस और डॉक्युमनेट्स के डिटेल्स देख सकते है |

इसके अलावा आप GST और ट्रैड लाइसेंस ले सकते है और अगर आप मेडिकल स्टोर पर बेबी फ़ूड या कोई और फ़ूड आइटम रखने वाले है तो आपको Food Safted And Standards Authority Of India ( fssai) के तरफ से फ़ूड लाइसेंस लेना पड़ेगा |

मेडिकल स्टोर खोलने के नियम

1 . अगर आप मेडिकल स्टोर खोलना चाहते है तो आपके लिए किसी किसी मान्यता प्राप्त कलेंगे से D.pharma  , B.Pharma या M.Pharma का सर्टिफिकेट होना चाहिए और इस सर्टिफिकेट के आधार पर ही State Drugs Standard Control Organization और Central Drugs Standard Control Organization के द्वारा मेडिकल स्टोर खोलने का परमिशन दिया जाता है |

2 . जिस जमीन पर आप दवाई की दुकान खोल रहे है वो या तो आपकी होनी चाहिए या रेंट पर होनी चाहिए दोनों कंडीशन में लैंड रजिस्ट्रशन होनी चाहिए इसमें आप लीगल एक्सपर्ट की हेल्प ले सकते है |

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए कितना खर्च लगेगा ?

एक मेडिकल स्टोर खोलने के लिए कम से कम आपको 5 लाख रूपये खर्च करना पड़ेगा इससे कम में भी आप खोल सकते है पर क्युकी दवाईया महंगी होती है इस लिए हम इन्वेस्टमेंट के साथ दुकान में स्टॉक कम दिखेगा और अगर आप होलसेल में जायेंगे तो आपको कम से कम 25 से 30 लाख रूपये तक इन्वेस्ट करना पढ़ सकता है कुल मिलकर

  • License Fee
  • Stock
  • Shop Construction
  • कम से कम 1 या 2 स्टाफ
  • Maintenance
  • Electricity

में इन्वेस्टमेंट तो करना ही पड़ेगा अगर आपके पास पैसे कम है तो आप लोन भी ले सकते है उसके लिए आपकी age कम से कम 25 साल होनी चाहिए और आप नजदीकी बैंक में बिज़नेस लोन के लिए अप्लाई कर सकते है |

मेडिकल शॉप खोलने के लिए कितनी जगह होनी चाहिए ?

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए उसकी बनावट पर काफी ध्यान देना होता है ताकि जगह को सही तरह से मैनेज किया जा सके दवाईया रखने के लिए शोकसे और जगह कुछ इस तरह से हो की ज्यादा से ज्यादा चीज़ो को रखा जा सके इसके अलावा

  • Owner और Staff की बैठने की जगह
  • अगर मरीज आए है तो उनका बैठने की जगह
  • और अगर आप अपने मेडिकल स्टोर में डॉक्टर भी बैठते है तो उनके लिए अलग चैम्बर
  • रेफ्रिजरेटर
  • बिलिंग
  • कंप्यूटर
  • पैकेट या डब्बे वाली चीज़ो को रखने के लिए जगह
  • अगर आपके मैं शॉप की साइज छोटी है तो स्टोर के बगल में एक और स्टोर ले सकते है और जो आपके स्टोर रूम का भी काम आ सकता है
  • मेडिकल स्टोर में लाइटिंग की अच्छी सुविधा होनी चाहिए ताकि शॉप खूबसूरत दिखे

मेडिकल स्टोर पर ध्यान डी देने वाली जरुरी बाते

  • मेडिकल शॉप खोलने पर आपको हमेशा बातो का ध्यान रखना होता है अगर कोई व्यक्ति ऐसी  दवा का डिमांड कर रह है जो की डॉक्टर की prescription ( पर्चे ) पर ही देना चाहिए तो बिना Prescription की दवाई मत दीजिये |
  • दवाई में ये चीज़े हमेशा चेक करते रहे की कौन से दवाई की डेट एक्सपायर डेट कब की है और अगर वो एक्सपायर हो गयी है तो उन्हें न रखे और एक्सपायर डेट देख कर ही दे
  • बहुत सा दवाई कप और इंजेक्शन आदि नशे के लिए यूज़ किया जाता है यूज़ रखने से बचे |
  • और इन सभी डाक्यूमेंट्स का ध्यान रखे जिन्हे हर साल renew करवाना पड़ता है और अपडेटेड रखिये क्युकी मेडिकल शॉप पर भी हमेशा checking करते रहिये |

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में हमने जाना की medical store kaise khole in hindi ये जानकारी आपको कैसी लगी नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताये और अपने सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करे |

Leave a Comment