IPO Me Invest Kaise Kare – IPO में कैसे इन्वेस्ट करे

IPO Me Invest Kaise Kare आई पी ओ  इसका नाम तो अपने जरूर होगा जिसका पूरा नाम Initial Public Offering है ये एक ऐसा प्रोसेस है जिसमे एक कंपनी आर्गेनाईजेशन जो की प्राइवेट से पब्लिक बनती है वो कंपनी खुद को स्टॉक एक्सचेंज को लिस्टेड कराती है और अपनी कैपिटल बढ़ाने के लिए शेयर बेचती है IPO में पार्टिसिपेट करके इन्वेस्टर उस कंपनी के स्टॉक एक्सचेंज पर ट्रेड करने से पहले उसके शेयर खरीद सकते है बहुत से इन्वेस्टर को ये शयद पता नहीं की IPO Me Invest Kaise Kare और वो इन्वेस्ट नहीं कर पाते आज के आर्टिकल में हम आपको इसी के बारे में बताने वाले है की IPO Me Invest Kaise Kare या फिर How To Invest In IPO In Hindi जिससे और इसके लिए अप्लाई कैसे किया जाता है जिससे की आप भी IPO में इन्वेस्ट कर पाएंगे |

IPO में इन्वेस्ट कैसे करे – How To Invest In IPO In Hindi

किसी भी कंपनी या प्रोडक्ट में इन्वेस्ट करने से पहले या कोई चीज़ में पैसा लगाने से पहले हमे उसके बारे में जरूर जानना चाहिए इसलिए हमे IPO में इन्वेस्ट करने से पहले उस कंपनी के बारे सही तरह से जाँच पड़ताल कर लेनी चाहिए की उसका पिछले रिकॉर्ड कैसा है , कंपनी इस समय मार्किट में कैसा परफॉरमेंस कर रही है , IPO में इन्वेस्ट करने पर हमे प्रॉफिट मिलेगा या नहीं जैसे बहुत से ऐसी बाते है जिसके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए तब जाकर ही आपको IPO में Invest करना चाहिए IPO Me Invest Kaise kare इसका प्रोसेस क्या है आइये जानते है इसके बारे में |

IPO में इन्वेस्ट करने का क्राइटेरिया क्या है ?

IPO में इन्वेस्ट करने के लिए आपके पास वैलिड Pan Card होना चाहिए आपके पास Demat Account का होना काफी जरुरी है क्युकी IPO में अप्लाई करते टाइम Demat Account की जानकारी सबमिट करनी होती है और अगर आप शेयर बेचना चाहते है आपके पास Trading Account का होना जरुरी है क्राइटेरिया के पूरा करने के बाद आप IPO में शेयर खरीद सकते है लेकिन इसके लिए आपको कौन कौन सा स्टेप्स को फॉलो करना होगा आइये अब इसके बारे में जानते है |

ipo me invest kaise kare

1 . IPO के विषय में जाने

जैसे मैंने आपको ऊपर बताया है की कंपनी के बारे इन्वेस्ट करने से पहले रिसर्च जरूर करे अक्सर इन्वेस्टर जल्दी से जल्दी फायदा पाने के चक्कर में कंपनी के जानकारी लिए बिना ही इन्वेस्ट और बाद में उन्हें नुकसान हो जाता है इसलिए इस सब चीज़ो के बारे पहले सही तरिके से रिसर्च कर ले जिसमे आप अप्लाई करना चाहते है इसमें आपको कंपनी के बिज़नेस प्लान और पब्लिक होने का रीज़न जानना होगा ये पता करने का सबसे आसान तरीका है उस कंपनी के प्रोस्पैक्स को स्टडी करना ये प्रोस्पैक्स आपको SEBI के वेबसाइट पर मिल जायेगा एक बात का ध्यान जरूर रखना होगा की IPO को बहुत कुछ छिपाया भी जाता है ज्यादा से ज्यादा इन्वेस्टर इसकी और आ सके इसलिए अच्छी जानकारी निकले तभी इन्वेस्ट करे |

2 . Arrange Funds

जब आप अपने लिए परफेक्ट IPO का चुनाव कर ले की आप इसी IPO में इन्वेस्ट करेंगे तब आप Funds Arrange करे आपको ये पता होना चाहिए आप 1 या 2 शेयर नहीं खरीद सकते आपको कंपनी के Lot Size के अनुसार ही शेयर खरीदने होंगे और Lot Size का मतलब होगा की वो कंपनी एक सिंगल ट्रांजेक्शन में कम से कम कितने शेयर को ऑफर करती है

जैसे किसी कंपनी ने Lot Size = 105 शेयर का बनाया है तो आपको एक बार में 115 शेयर ही खरीदने होंगे और अगर आप इससे ज्यादा शेयर खरीदना चाहेंगे तो आपको 115 शेयर का एक और Lot खरीदना होगा और इस तरह आप उस कंपनी के शेयर होल्डर बन जायेंगे जिसके 2 Lot में 230 शेयर आपके पास होंगे आपको शेयर Lot में खरीदने होंगे इसलिए आपके पास इन्वेस्ट करने के लिए अच्छा अमाउंट होना जरुरी है |

3 . Open A Demat Account

IPO के लिए अप्लाई करने के लिए आपके पास Demat Account का होना बहुत जरुरी है डीमैट अकाउंट के जरिये ही सिक्योरिटीज को ऑनलाइन खरीद और बेच सकते है इन सिक्योरिटीज में स्टॉक्स , बांड , वारंट्स आते है डीमैट अकाउंट खुलवाने के लिए आपके पास आधार कार्ड , पैन कार्ड , पता और आइडेंटिटी प्रूफ की जरूरत होती है डीमैट अकाउंट आप कुछ ही टाइम में ओपन करवा सकते है और इसके लिए आप स्टॉक ब्रोकर्स की मदद भी ले सकते है जैसे Angle One , Zerodha , Upstok से ओपन करवा सकते है और अगर आप शेयर बेचना भी चाहते है आपके पास ट्रेडिंग अकाउंट भी होना चाहिए जो आपके बैंक अकाउंट और डीमैट अकाउंट से लिंक होना चाहिए जिससे की आप ट्रैड कर सके |

4 . Application Process

एप्लीकेशन प्रोसेस समझने के लिए आपको ASBA ( Applications Supported By Blocked Amount ) में बारे में जानना होगा ये ऐसी फेसेलिटी है जो बिड लगाने के समय IPO इशू के सब्सक्रिप्शन के लिए बैंक को इन्वेस्टर्स को मनी ब्लॉक करने की परमिशन देता है यानि जब इन्वेस्टर ASBA के द्वारा इन्वेस्ट कर रहा है जो की अनिवार्य है तो उसके बैंक अकाउंट से एप्लीकेशन मनी तभी डेबिट की जाएगी जब अलॉटमेंट के लिए उसका एप्लीकेशन सेलेक्ट हो गया होगा इस ब्लॉक्ड अमाउंट को किसी भी काम के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता हालांकि आप इन ब्लॉक्ड अमाउंट पर इंटरेस्ट पा सकते है अगर आपको IPO इशू नहीं मिलता है और IPO Withdraw हो जाता है तो आपको बैंक अकाउंट में रिफंड आ जाता है |

5 . Bidding Process

इस स्टेप में इन्वेस्टर को एक प्राइस पर बिड लगानी होती है जो कंपनी के द्वारा निश्चय किया गया प्राइस रेंज में से होता है जब प्राइस और लॉट साइज सेलेक्ट हो जाता है तब बैंक इन्वेस्टर के अकाउंट में टोटल अमाउंट को ब्लॉक कर देते है जब तक की अलॉटमेंट न हो जाये |

6 . Shares Allotment

फाइनल स्टेप में इन्वेस्टर को शेयर अलॉट होते है जब कंपनी को पब्लिक से सब्सक्रिप्शन मिल जाते है तब वो शेयर्स अलॉट करती है |

IPO Subscription क्या है ?

ये इन शेयर्स की संख्या होती है जिसके लिए IPO में अप्लाई किया गया है ये IPO के डिमांड के स्ट्रेंथ को बताता है subsription से जुड़े भी 3 टर्म होते है इनके बारे में भी आपको जरूर पता होना चाहिए |

  • Fully Subscribed
  • Undersubscribed
  • Over Subscribed

Fully Subscribed क्या है ?

जब इशू सही अमाउंट पर सब्सक्राइब होते है तब इसे Fully subscribed कहा जाता है आपको बता दे की ये इशू वो प्रोसेस होता है जिसमे इन्वेस्टर से फण्ड रेज करने के लिए सिक्योरिटीज ऑफर किया जाता है कंपनी बांड , स्टॉक इशू कर सकती है |

Undersubscribed क्या है ?

इसके बारे में हम बात करे तो ये ऐसी सिचुएशन होती है जिसमे सिक्योरिटीज की IPO इशू किये गए शेयर से कम होती है इस सिचुएशन को Underbooking भी कहा जाता है इसका रीज़न अक्सर सिक्योरिटीज का प्राइस ज्यादा होना होता है |

Over Subscribed क्या है ?

जिसका मतलब होता है की IPO की डिमांड इशू किये गए शेयर से ज्यादा है |

अगर इन्वेस्टर को शेयर का फुल अलॉटमेंट हो जाता है तो उसे IPO क्लोज होने से 6 Working Days से पहले conformation Allotment Note ( CAN ) मिलता है जिसके बाद इन्वेस्टर को कंपनी के स्टॉक्स एक्सचेंज में लिस्टेड तक इंतज़ार करना होता है जिसके बाद आप शेयर को खरीद या बेचा जा सकता है इस तरह आप इन स्टेप्स को फॉलो करने के बाद आपको शेयर अलॉट हो जाएगा |

IPO में इन्वेस्ट करने से पहले इन टिप्स का यूज़ जरूर करे

  • कंपनी के लॉन्ग टर्म्स परफॉरमेंस चेक करे अगर कंपनी कई साल से सही तरीके से Grow कर रही है तो आप इसे एक अच्छी कंपनी समझ सकते है लेकिन अगर कंपनी की परफॉर्मन्स अच्छी नहीं है इसके IPO को Skip करना बेहतर होगा |
  • आपका पैसा किस तरह यूज़ किया जाएगा इसका पता भी जरूर लगाए इसके लिए कंपनी के प्रोस्पेक्टिव को अच्छे तरह से स्टडी करे ताकि कंपनी किस तरह से अपनी कैपिटल बढ़ाएगी जरूर पता करे
  • कंपनी का पेमेंट का रिकॉर्ड चेक करे की कही पेमेंट डिफॉल्ट्स का रिकॉर्ड तो नहीं है क्युकी आपको ऐसी कंपनी के IPO में इन्वेस्ट करना चाहिए जिसका Clear रिकॉर्ड हो और अगर कंपनी के प्लान ठीक लगे तभी इन्वेस्ट करे |
  • एप्लीकेशन फॉर्म बहुत ध्यान से भरे क्युकी Incomplete Form रिजेक्ट हो जाती है
  • ECS यानि Electronic Charging Service रिफंड करते टाइम ध्यान रखे क्युकी इसे मिस करने पर आपके बैंक अकाउंट में रिफंड नहीं आएगा
  • Upcoming IPO में जानने के लिए आप मीडिया अलर्टस का यूज़ कर सकते है अक्सर कंपनी विज्ञापन के जरिये जानकारी देती है

निष्कर्ष

आज के आर्टिकल में हमने आपको बताया की आप IPO me invest kaise Kare जिससे की आप इन्वेस्ट करके अच्छा पैसा कमा सकते है अगर ये जानकारी आपको पसंद आयी तो अपने सोशल मीडिया पर शेयर करे और कमेंट जरूर करे |

2 thoughts on “IPO Me Invest Kaise Kare – IPO में कैसे इन्वेस्ट करे”

Leave a Comment